मुख्यमंत्री श्री जय राम ठाकुर जी ने कोटखाई क्षेत्र में 120.66 करोड़ रुपये की विकासात्मक परियोजनाओं की आधारशिला रखी व शिलान्यास किए


मुख्यमंत्री श्री जय राम ठाकुर जी ने आज यहां वीडियो काॅन्फ्रेंसिंग के माध्यम से जिला शिमला के जुब्बल-कोटखाई विधानसभा क्षेत्र के कोटखाई में 120.66 करोड़ रुपये की विकासात्मक परियोजनाओं के शिलान्यास किए और आधारशिला रखीं। इसके साथ जनता को मुख्यमंत्री ने जुब्बल-कोटखाई विधानसभा क्षेत्र के लिए कुल मिलाकर 270 करोड़ रुपये की लागत की परियोजनाएं समर्पित कीं। इसमें जुब्बल क्षेत्र में 76.20 करोड़ रुपये, नावर क्षेत्र में 73.13 करोड़ रुपये और कोटखाई क्षेत्र में 120.66 करोड़ रुपये की परियोजनाएं शामिल हैं।

आज कोटखाई क्षेत्र की जनता को समर्पित की गई परियोजनाओं में 2.66 करोड़ रुपये की लागत से गिरी नदी पर 30 मीटर का पैदल पथ पुल, 2.35 करोड़ रुपये की लागत की बघेरी बरेच सम्पर्क सड़क, 13.18 लाख रुपये की लागत से निर्मित पशु औषधालय सतान्दली, 60.20 लाख रुपये की लागत से निर्मित प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र देवगढ़ का भवन, 70.92 लाख रुपये की लागत से निर्मित चिकित्सा केंद्र गड़वाग, 1.23 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित सहायक अभियंता लोक निर्माण विभाग कोटखाई कार्यालय और आवासीय भवन, 64.59 लाख रुपये की लागत से निर्मित उठाउ पेयजल आपूर्ति योजना बौंह (ग्रामीण) और पारली पंचायत का भण्डारण टैंक, 52.48 लाख रुपये की लागत से ग्राम पंचायत पांदली में निर्मित पेयजल आपूर्ति योजना जांगल कटाच और बदराणा, कांगी नाला से ग्राम पंचातय क्यारी, पराली और घ्याल क्षेत्र के पनोग में 48.97 लाख रुपये की उठाऊ पेयजल आपूर्ति योजना, ग्राम पंचायत क्यारवी के अंतर्गत दरैण बस्ती के लिए 36.43 लाख रुपये की उठाऊ पेयजल आपूर्ति योजना और तहसील कोटखाई में 2.93 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित 22 केवी विद्युत नियन्त्रण उप-केंद्र चमैन शामिल हैं।

जय राम ठाकुर जी ने 9.06 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित होने वाली कोटखाई की देवरी-खनेटी टिक्कर वाया देयोरीघाट सड़क को चैड़ा करने और सुदृढ़ीकरण, 48.90 लाख रुपये की लागत से निर्मित होने वाली धरोला-बलोग-पझाई सम्पर्क सड़क, 45.40 लाख रुपये की लागत से पांदली-परौंठीघार सम्पर्क सड़क, 86.07 लाख रुपये की लागत से पुलिस थाना कोटखाई के आवासीय भवन, 1.76 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित होने वाले लोक निर्माण विभाग कोटखाई अधिशाषी अभियंता कार्यालय भवन, जल जीवन मिशन के अंतर्गत जुब्बल-कोटखाई क्षेत्र के लिए 28.39 करोड़ रुपये की उठाऊ/बहाव जल आपूर्ति योजना, ग्राम पंचायत थरोला के अंतर्गत मराथु गांव के लिए 69.25 लाख रुपये की पेयजल आपूर्ति योजना, 17 करोड़ रुपये की लागत के पैकिंग और ग्रेडिंग लाईन (सुधार) और सीए स्टोर गुम्मा 45.58 करोड़ रुपये की लागत से 220/66केवी 2x63 एमवीए विद्युत उप-केंद्र प्रगतीनगर, 3.57 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित होने वाले विद्युत नियन्त्रण उप केंद्र कुपरी नाला और जुब्बल-कोटखाई विकास खंड की ग्राम पंचायत देवगढ़ में 15 लाख रुपये की लागत से निर्मित होने वाले पंचायत सामुदायिक केंद्र की आधारशिला रखीं।


शिमला से वीडियो काॅन्फ्रेंसिंग के माध्यम से लोगों को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि एक ही विधानसभा क्षेत्र में 270 करोड़ रुपये की लागत की परियोजनाएं जनता को समर्पित करना अपने आप में एक कीर्तिमान है। उन्होंने कहा कि इन  सभी परियोजनाओं से जुब्बल-कोटखाई विधानसभा क्षेत्र में विकास और समृद्धि के युग का सूत्रपात होगा।

जय राम ठाकुर जी ने कहा कि गुम्मा में पैकेजिंग व ग्रेडिंग लाईन व सीए स्टोर को स्तरोन्नयन व सुदृढ़ करने से विशेष रूप से इस क्षेत्र के फल उत्पादकों और जिला शिमला में उत्पादकों को सुविधा प्राप्त होगी।

उन्होंने कहा कि सीएस स्टोर के स्तरोन्नयन से इसकी क्षमता में 1340 मीट्रिक टन से 2000 मीट्रिक तक बढ़ौतरी होगी। उन्होंने कहा कि पराली में नई खाद्य प्रसंस्करण इकाई से सेब उत्पादकों को उचित मूल्य सुनिश्चित होगा।

मुख्यमंत्री जी ने कहा कि पूर्व सरकार ने अपने पांच वर्ष के कार्यकाल में क्षेत्र के लिए कुछ नहीं किया, जबकि पिछले अढ़ाई वर्षों के दौरान न केवल जुब्बल-कोटखाई बल्कि राज्य के हर क्षेत्र में अभूतपूर्व विकास हुआ है। उन्होंने क्षेत्र के विकास के लिए मुख्य सचेतक नरेन्द्र बरागटा के प्रयासों की सराहना की। उन्होंने कहा कि राज्य में कोरोना महामारी की स्थिति से प्रभावी तरीके से निपटा जा रहा है। उन्होंने कहा कि हालांकि राज्य में कोरोना संक्रमित मामलों में बढ़ौतरी हुई है, परन्तु प्रदेश में मरीजों के ठीक होने की दर देश मेें बेहतरीन है।

मुख्य सचेतक नरेन्द्र बरागटा ने जुब्बल-कोटखाई क्षेत्र में विकास में गहरी रूचि के लिए मुख्यमंत्री का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि वर्तमान सरकार के अढ़ाई वर्षों के कार्यकाल में राज्य में अभूतपूर्व विकास सुनिश्चित हुआ है। जल-जीवन मिशन के तहत 28.39 करोड़ रुपये लागत की पेयजल आपूर्ति योजनाओं से क्षेत्र के 102 गांवों के हजारों लोगों को सुविधा प्राप्त होगी। 45.58 करोड़ रुपये की लागत से प्रगतीनगर में निर्माणाधीन विद्युत सब स्टेशन से कम वोल्टेज की समस्या के समाधान में मदद मिलेगी। इस अवसर पर भाजपा मंडल अध्यक्ष गोपाल जबैइक, उपायुक्त शिमला अमित कश्यप और एचपीएमसी की प्रबंध निदेशक देबाश्वेता बनिक उपस्थित थी।

Comments