कैबिनेट मीटिंग : जलशक्ति विभाग के कर्मचारियों का बढ़ेगा वेतन; रोजगार के खोले नए द्वार, शिक्षा क्षेत्र में लिया बड़ा निर्णय


मुख्यमंत्री श्री जयराम ठाकुर जी की अध्यक्षता में आज हुई हिमाचल प्रदेश मंत्रिमंडल की बैठक में 6वें राज्य वित्तायोग के गठन को मंत्रिमंडल ने अपनी सहमति दी है। आयोग पंचायतों तथा स्थानीय शहरी निकायों की वित्तीय स्थिति की समीक्षा करेगा। आयोग राज्य के संचित कोष से पंचायतों और शहरी निकायों के कर निर्धारण, डयूटी, टोल और शुल्क ग्रांट इन एड देने के साथ-साथ अन्य सभी मामले, जिनमें पंचायत और शहरी निकायों की वित्तीय स्थिति सुदृढ़ होगी, के बारे में राज्यपाल को सिफारिश करेगा।


इन कर्मचारियों के मानदेय में होगी बढ़ोतरी
हिमाचल मंत्रिमंडल ने जल शक्ति विभाग में जल रक्षक/पैरा फीटर और पैरा पम्प ऑॅपरेटरों के मानदेय में 300 रुपये प्रति माह की वृद्धि की है, अब जल रक्षक को 3300 रुपये प्रति माह जबकि पैरा फीटर और पैरा पम्प ऑॅपरेटरों को 4300 रुपये प्रति माह का मानदेय मिलेगा। मंत्रिमंडल ने राज्य के ग्रामीण/शहरी क्षेत्रों में 3/2 बिस्वा भूमि की पात्रता के लिए आय मानदंड में संशोधन करने के लिए आवासहीन व्यक्तियों/परिवारों की मौजूदा 50,000 रुपए प्रतिवर्ष आय को बढ़ाकर एक लाख रुपए प्रतिवर्ष करने की मंजूरी दी है ताकि अधिक से अधिक लोगों को इस योजना का लाभ मिल सके।


इस निर्णय से लाभान्वित होंगे 2,56,514 विद्यार्थी
प्रदेश मंत्रिमंडल ने वर्ष 2020-21 के लिए हिमाचल प्रदेश राज्य नागरिक आपूर्ति निगम लिमिटेड के माध्यम से ई-टेंडर के आधार पर कक्षा 1, 3, 6 और 9वीं कक्षाओं के स्कूली विद्यार्थियों को अटल स्कूल वर्दी योजना के तहत स्कूल बैग की खरीद, आपूर्ति और वितरण के लिए अपनी मंजूरी दी। इससे इस वर्ग के 2,56,514 विद्यार्थी लाभान्वित होंगे। मंत्रिमंडल द्वारा राज्य आपदा शमन कोष गठित करने तथा आपदा शमन व्यय को पूरा करने के लिए आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005 तथा 2011 के नियमों के तहत वित्त प्रबंधन के लिए दिशा-निर्देशों को मंजूरी प्रदान की, क्योंकि आपदा तैयारी, प्रतिक्रिया और गतिविधियां एक अलग राज्य आपदा प्रबंध कोष के तहत आती हैं। इस कोष के अन्तर्गत राज्य आपदा जोखिम प्रबंधन कोष का 20 प्रतिशत हिस्सा इस्तेमाल किया जाएगा जो कि वर्तमान वित्त वर्ष के दौरान 90.80 करोड़ रुपए होगा। इसके अतिरिक्त 50 करोड़ रुपए की राशि भूकम्प और भूस्खलन जोखिमों के लिए राज्य आपदा शमन कोष से अनुमोदित की गई है।


इन क्षेत्रों में मिलेगा नौकरी का मौका
हिमाचल मंत्रिमंडल ने मंडी जिला के थुनाग में रेशम बीज उत्पादन केंद्र स्थापित करने तथा इसके संचालन के लिए विभिन्न श्रेणियों के 4 पदों को सृजित करने तथा भरने की भी स्वीकृति प्रदान की। मंत्रिमंडल ने कांगड़ा जिला के सुलह विधानसभा क्षेत्र में राजकीय बहुतकनीकी संस्था खोलने तथा इस संस्थान के प्रबधन के लिए विभिन्न श्रेणियों के 29 पदों को सृजित तथा इन्हें भरने की स्वीकृति प्रदान की। मंत्रिमंडल ने मंडी जिला के  नागरिक अस्पताल टिहरा में सुचारु कामकाज के लिए विभिन्न श्रेणियों के और 3 पदों को सृजित और भरने की मंजूरी प्रदान की।

Comments

  1. Iph mai Pera feeter ki Bharti kab hogi

    ReplyDelete
  2. सर जी प्रणाम🙏
    निवेदन यह है कि मैं सुमित कुमार गांव पन्देहर पोस्ट आफिस लोअर लम्बागाओ तेह जयसिंहपुर जिला कांगड़ा से हूँ जी महोदय जी में 75% हैंडीकैप्ड हूँ और बी पी एल परिवार से सम्बंधित हूँ।और काम करने में असमर्थ हूँ बेरोजगार हूँ शादीशुदा भी हूँ मेरे 2 बच्चे भी है ।महोदय जी मैं अपना और अपने परिवार का लालनपोषण करने में असमर्थ हूँ ।महोदय जी मेरी पत्नी दीपा देवी " राजकीय पाठशाला पन्देहर "(प्राइमरी) स्कूल जो कि लोअर लंबा गांव बी पी ओ के अंडर आता है। जहां पर चतुर्थ श्रेणी का पद खाली है ।S M C कमेटी दोबारा सफाई और जलबाहक का कार्य करने के लिए कमेटी प्रस्ताब द्बारा रखी गयी है।। महोदय जी मेरी आपसे विनम्र प्रार्थना है मेरी पत्नी दीपा देवी जो कि बिना बेतन वहां पर 6-7 महीनों से पूरी लगन से कार्य कर रही है उसे स्कूल विभाग द्बारा रिक्त पड़े चपरासी के पद पर नोकरी देने की महान कृपा करें मैं ओर मेरा परिवार आपका सदैव आभारी रहेगा।
    धन्यबाद सहित।।
    🙏🙏🙏🙏🙏



    ReplyDelete
  3. sir junior engineers ki posts bhi nikaliye iph pwd main pichle 2 saalo se koi posts nahi arhi haii

    ReplyDelete

Post a comment