सेब सीजन की सफलता के लिए जमीनी स्तर पर कार्य करें बागवानी विभाग : मुख्यमंत्री


मुख्यमंत्री श्री जयराम ठाकुर जी ने कहा है कि हिमाचल प्रदेश की आर्थिकी का मुख्य साधन सेब है और सेब सीजन लगभग शुरू हो गया है। ऐसे में सेब की फसल को फल मंडियों तक पहुंचाने के लिए बागवानी विभाग के कर्मचारी एवं अधिकारी धरातल पर युद्धस्तर पर कार्य करें। मुख्यमंत्री आज सेब सीजन-2020 को लेकर आयोजित बैठक को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने बागवानी विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि बागवानों की समस्या जानने के लिए उनके बीच जाएं, ताकि यह सीजन सफल हो सके। मुख्यमंत्री ने कहा कि कोविड-19 महामारी के कारण प्रदेश की आर्थिकी पर काफी असर पड़ा है, लेकिन आर्थिकी का एक प्रमुख हिस्सा सेब की फसल भी है। ऐसे में प्रदेश की आर्थिकी के इस साधन को बचाने के लिए अभी से जुटना होगा। मुख्यमंत्री ने विश्वास जताया है कि इस बार का सेब सीजन हिमाचल को संबल एवं प्रभावित हुई आर्थिकी को मजबूती प्रदान करेगी।

सेब सीजन का कार्य करने वाले प्रदेश के नागरिकों से संपर्क करें बागवानी विभाग
मुख्यमंत्री श्री जयराम ठाकुर जी ने कहा कि सेब सीजन को लेकर मजदूरों की व्यवस्था करने के लिए राज्य सरकार प्रयासरत है। इसी दृष्टिगत मुख्यमंत्री ने केंद्र सरकार से भी सहयोग की अपेक्षा जाहिर की है। सेब सीजन के लिए अधिकतर मजदूर नेपाल के होते हैं लेकिन कोविड-19 वायरस के कारण लगाए गए लॉकडाउन के चलते नेपाल से मजदूरों का प्रदेश आना मुश्किल हो रहा है। मजदूरों को लाने के लिए प्रदेश सरकार हरसंभव प्रयास कर रही है। मुख्यमंत्री ने कहा कि बागवानी विभाग को चंबा, सिरमौर और मंडी जिला के उन नागरिकों से भी संपर्क करना चाहिए जो सेब सीजन का कार्य करते हैं। इस संबंध में मुख्यमंत्री ने जिला प्रशासन शिमला को भी आदेश दिए हैं।

सेब बाहुल क्षेत्रों की सड़कों को शीघ्र दुरुस्त करें पीडब्ल्यूडी
मुख्यमंत्री श्री जयराम ठाकुर जी ने प्रदेश लोक निर्माण विभाग को आदेश दिया है कि राज्य के सभी सेब बाहुल क्षेत्रों से जुड़ने वाली सड़कों के मुरम्मत कार्य प्राथमिकता से करें। उन्होंने कहा कि बागवानों को फल मंडियों तक सेब पहुंचाने के लिए मार्ग से जुड़ी समस्या आड़े नहीं आनी चाहिए इसके लिए विभाग अभी से जुट जाएं। इसके अलावा मार्केटिंग बोर्ड व एचपीएमसी के पदाधिकारियों को भी मुख्यमंत्री ने आवश्यक निर्देश दिए हैं।


सेब के मिलेंगे अच्छे दाम : बागवानी मंत्री
प्रदेश बागवानी मंत्री श्री महेंद्र सिंह ठाकुर जी ने कहा कि इस बार हिमाचल में सेब की कम फसल होने का अनुमान है, ऐसे में बागवानों को सेब के उचित दाम प्राप्त होंगे। उन्होंने कहा कि बागवानी विभाग सेब सीजन की सफलता के लिए हरसंभव कदम उठा रहा है। इसको लेकर रूपरेखा तैयार की गई है। बागवानी मंत्री ने कहा कि सेब सीजन के लिए प्रदेश में भी काफी मजदूर हैं। मजदूरों की कमी को दूर करने के लिए उचित कदम उठाए जाएंगे।

मुख्य सचेतक ने दिए सुझाव
बैठक में उपस्थित मुख्य सचेतक श्री नरेंद्र बरागटा जी ने सेब सीजन को लेकर प्रभावी रूपरेखा बनाने के लिए मुख्यमंत्री का धन्यवाद जताया। इसके अलावा उन्होंने सीजन को लेकर सुझाव भी दिए। श्री बरागटा ने कहा कि लेबर की व्यवस्था के लिए प्रभावी रूपरेखा बनाने की आवश्यकता है। सिरमौर, चंबा जिलों आदि से मजदूरों की व्यवस्था की जानी चाहिए। उन्होंने कोविड-19 के मद्देनजर सामाजिक दूरियों को बनाए रखने के लिए फल मंडियों में उचित पुलिस बल तैनात करने का भी आग्रह किया। इस दौरान बागवानी विभाग के निदेशक डॉ. एम.एम. शर्मा ने सेब सीजन को लेकर प्रस्तुति दी। बागवानों को सेब में कलर की सप्रे न करने के लिए भी प्रोत्साहित किया जाएगा ताकि सेब सीजन में मजदूरों की कमी आड़े न आए और बागवानों को फसल के उचित दाम मिल सके।

Comments