मुख्यमंत्री ने ज्वालामुखी और देहरा में किए 182 करोड़ की लागत वाले विकास कार्यों के शुभारंभ

मुख्यमंत्री श्री जयराम ठाकुर जी ने कहा कि अपने कांगड़ा जिले के शीतकालीन प्रवास के दौरान उन्होंने ज्वालामुखी और देहरा विधानसभा क्षेत्रों में 182 करोड़ रुपये की विकास परियोजनाओं के उद्घाटन और शिलान्यास किए, जिनमें देहरा विधानसभा क्षेत्र के लिए 50 करोड़ रुपये के शिलान्यास एवं उद्घाटन शामिल हैं। मुख्यमंत्री ने आज देहरा विधानसभा क्षेत्र के ढलियारा में जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि शीतकालीन प्रवास के पहले चरण में उन्होंने बैजनाथ, कांगड़ा और इंदौरा विधानसभा क्षेत्रों में लगभग 165 करोड़ रुपये की विकास परियोजनाओं के शिलान्यास एवं उद्घाटन किए थे। इस प्रकार कांगड़ा जिले के पांच विधानसभा क्षेत्रों में अभी तक लगभग 350 करोड़ रुपये की विकासात्मक परियोजनओं के शिलान्यास एवं उद्घाटन किए जा चुके हैं।
मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश सरकार यह सुनिश्चित बना रही है कि कांगड़ा जिला का शीतकालीन प्रवास केवल एक परम्परा मात्र और राजनीतिक लाभ के लिए न होकर प्रदेश के सबसे बड़े जिले का विकास किया जाए। पांच दिनों की अवधि में 350 करोड़ रुपये की विकास परियोजनाओं के शिलान्यास और उद्घाटन इस बात का प्रमाण है कि सरकार इस जिले के विकास को विशेष प्राथमिकता दे रही है। उन्होंने कहा कि देहरा विधानसभा क्षेत्र में लोक निर्माण विभाग और सिंचाई की करोड़ों रुपये की परियोजनाएं कार्यान्वित की जा रही हैं।
मुख्यमंत्री ने कहा कि केन्द्रीय विश्वविद्यालय के निर्माण का कार्य जल्दी आरंभ किया जाएगा, जिसे लेकर वे केंद्र सरकार से मामला उठाएंगे। चिनौर औद्योगिक क्षेत्र के विकास के लिए 6 करोड़ रुपये स्वीकृत किए गए हैं, जिससे क्षेत्र की 9 पंचायतें लाभान्वित होंगी। डिग्री काॅलेज ढलियारा को आदर्श महाविद्यालय बनाने के लिए हर संभव सहायता प्रदान की जाएगी ताकि क्षेत्र के युवाओं को गुणात्मक शिक्षा मिल सके। उन्होंने घोषणा की नागरिक अस्पताल ढलियारा में चिकित्सकों के पदों को 9 से बढ़ाकर 14 किया जाएगा और अस्पताल में डिजिटल एक्सरे की सुविधा भी उपलब्ध करवाई जाएगी। उन्होंने हरिपुर में संयुक्त कार्यालय भवन के निर्माण के लिए 1.50 करोड़ रुपये और नगर परिषद भवन देहरा के लिए एक करोड़ रुपये देने की भी घोषणा की।
मुख्यमंत्री ने कहा कि हिमाचल प्रदेश की जनता प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी की आभारी है, जिन्होंने इस राज्य को अपना दूसरा घर माना है और यहां की विकासात्मक आवश्यकताओं के अनुरूप उदार आर्थिक सहायता प्रदान की है। वह पिछले दो वर्षों में दो बार प्रदेश का दौरा कर चुके हैं और रोहतांग में अटल सुरंग के लोकार्पण के लिए जुलाई या अगस्त के माह में पुनः यहां आएंगे। उन्हांेने कहा कि सरकार ने अनेक कल्याणकारी और विकासात्मक परियोजनाएं आरम्भ की हैं, जिनके माध्यम से प्रदेश के लोगों का जीवन बेहतर और खुशहाल बनेगा। जन मंच कार्यक्रम को विपक्षियों ने भी सराहा है, क्योंकि इसके माध्यम से लोगों की समस्याओं का घर-द्वार के समीप त्वरित निपटारा हो रहा है। केन्द्र सरकार ने प्रदेश को 10500 करोड़ रुपये की विकासात्मक परियोजनाएं मंजूर की हैं, जिससे यहां विकास को गति मिलेगी।
इससे पूर्व, मुख्यमंत्री ने देहरा तहसील के अन्तर्गत ढलियारा-सूरजपुर उठाऊ पेयजल आपूर्ति योजना के सुधार एवं संबर्द्धन, ग्राम पंचायत चुडरेहड़, सुनहेट और नलेटी के विभिन्न गांवों में जल जीवन मिशन के अन्तर्गत 7.82 करोड़ रुपये की लागत से बनने वाली उठाऊ पेयजल आपूर्ति योजनाओं, नरड खड्ड पर पुल, जल जीवन मिशन के अन्तर्गत हरिपुर उप-तहसील के गुलेर, पीर, बिंदली गांवों के लिए 25 करोड़ रुपये की लागत से तैयार होने वाली उठाऊ पेयजल आपूर्ति योजना और हरिपुर-गुलेर महाविद्यालय के कैंटीन खण्ड की आधारशिलाएं रखीं।
मुख्यमंत्री ने चनौर और बेह में स्वास्थ्य उपकेंद्रों, ढलियारा में बायोमास प्लांट, प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र ढलियारा, हाल ही में स्तरोन्नत हरिपुर तहसील और लोक निर्माण विभाग के हरिपुर स्थित उप-मण्डल का शुभारम्भ किया। इसके उपरांत, मुख्यमंत्री ने देहरा में पुलिस के आवासों का शुभारम्भ भी किया। उन्होंने देहरा विश्राम गृह में जन समस्याऐं भी सुनीं। जय राम ठाकुर ने इससे पहले राजकीय महाविद्यालय ढलियारा में शिक्षकों और विद्यार्थियों को सम्बोधित करते हुए कहा कि प्रदेश सरकार हिमाचल प्रदेश को देश का शिक्षा केन्द्र बनाने के लिए प्रतिबद्ध है। इस उद्देश्य की प्राप्ति के लिए सरकार श्रेष्ठ शैक्षणिक अधोसंरचना उपलब्ध करवाने पर बल दे रही है।
मुख्यमंत्री ने आज प्रातः ज्वालाजी मन्दिर में पूजा-अर्चना की। केन्द्रीय वित्त एवं कार्पोरेट राज्य मंत्री श्री अनुराग सिंह ठाकुर जी ने इस अवसर पर कहा कि भारत सरकार ने 15वें वित्त आयोग के माध्यम से हिमाचल को 19309 करोड़ रुपये प्रदान किए हैं। इससे जहां प्रदेश में विकास को गति मिलेगी, वहीं यह भी सुनिश्चित होगा कि धन की कमी के कारण कोई भी विकास परियोजना अधर में न रहे। उन्होंने कहा कि ढलियारा महाविद्यालय के छात्रावास निर्माण के लिए वह हर संभव सहयोग देंगे। धर्मशाला में ग्लोबल इन्वेस्टर्ज मीट का आयोजन प्रदेश सरकार की एक महत्वपूर्ण पहल और उपलब्धि है।
स्थानीय विधायक श्री होशियार सिंह जी ने देहरा विधानसभा क्षेत्र के लिए करोड़ों रुपये की सौगात देने के लिए मुख्यमंत्री का आभार व्यक्त किया। उन्होंने ढलियारा काॅलेज में बी.एड., एम.बी.ए. और भू-विज्ञान में एम.एस.सी. कक्षाएं आरम्भ करने और क्षेत्र में प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र खोलने का आग्रह किया। पूर्व मंत्री श्री रविन्द्र सिंह रवि जी ने कहा कि इस क्षेत्र में पर्यटन के लिए अपार संभावनाएं मौजूद हैं, जिनका दोहन किया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि विश्व प्रसिद्ध गुलेर चित्रकला को प्रोत्साहन देने की आवश्यकता है ताकि इसे विश्व मानचित्र पर उभारा जा सके। उन्होंने मुख्यमंत्री से देहरा अस्पताल को उपमंडलीय अस्पताल में स्तरोन्नत करने और सड़क नेटवर्क में सुधार का भी आग्रह किया। भाजपा मंडलाध्यक्ष श्री निर्मल सिंह जी ने मुख्यमंत्री का स्वागत किया।



Comments