मुख्यमंत्री ने नववर्ष पर राजधानी शिमला में किया 525 करोड़ की विकास परियोजनाओं का शुभारंभ

मुख्यमंत्री श्री जयराम ठाकुर जी ने आज राजधानी शिमला में 525 करोड़ रुपये की विकास परियोजनाओं के लोकार्पण और शिलान्यास किए। उन्होंने शिमला स्मार्ट सिटी मिशन के तहत 17.36 करोड़ रुपये की लागत से आईजीएमसी से संजौली तक स्मार्ट पैदल यात्री पथ व शिमला स्मार्ट सिटी मिशन के तहत 32 करोड़ रुपये की लागत से बहु-मंजिला पार्किंग व आईजीएमसी की नई ओपीडी के लिए लिंक रोड का शिलान्यास किया। मुख्यमंत्री ने 70 करोड़ रुपये की लागत से शिमला के लिए उठाऊ पेयजल आपूर्ति योजना, चाबा (कोल डैम) तथा मौजूदा गुम्मा पंप स्टेशन के संवर्धन कार्य का लोकार्पण तथा 406 करोड़ रुपये की लागत से सतलुज नदी से शिमला शहर के लिए पेयजल आपूर्ति योजना का शिलान्यास किया।
शिक्षा मंत्री श्री सुरेश भारद्वाज जी ने नव वर्ष के मौके पर विभिन्न विकास कार्यों के शिलान्यास और लोकार्पण के लिए मुख्यमंत्री का आभार प्रकट किया। इस अवसर पर सिंचाई एवं जन स्वास्थ्य मंत्री श्री महेन्द्र सिंह ठाकुर जी, शहरी विकास मंत्री श्रीमती सरवीण चैधरी जी, नगर निगम शिमला की महापौर श्रीमती सत्या कौंडल, उप-महापौर श्री शैलेन्द्र चैहान, जिला भाजपा अध्यक्ष श्री रवि मेहता, सचिव सिंचाई एवं जन स्वास्थ्य श्री आर.एन. बत्ता, सचिव शहरी विकास श्री सी. पालरासु, नगर निगम शिमला के आयुक्त श्री पंकज राय और अन्य वरिष्ठ अधिकारी भी उपस्थित थे।

2022 तक पूरा होगा 406 करोड़ की पेयजल आपूर्ति योजना का निर्माण कार्य 
मुख्यमंत्री श्री जयराम ठाकुर जी ने कहा कि शिमला शहर के लिए 406 करोड़ रुपये की महत्त्वाकांक्षी पेयजल आपूर्ति योजना का निर्माण कार्य 2022 तक पूर्ण होगा। इस योजना से शिमला शहर को 67 एम.एल.डी. पेयजल की आपूर्ति होगी और इससे वर्ष 2050 तक शिमला के लिए पर्याप्त मात्रा में पेयजल उपलब्ध होगा।
मुख्यमंत्री ने कहा कि चाबा (कोल डैम)-शिमला उठाऊ पेयजल आपूर्ति योजना जिसका कि आज विधिवत रूप से लोकार्पण हुआ है, इससे शिमला शहर के लिए रोजाना 10 एम.एल.डी. अतिरिक्त पेयजल आपूर्ति सुनिश्चित हो रही है। उन्होंने कहा कि ये दोनों पेयजल आपूर्ति योजनाएं शिमला शहर के लिए वरदान सिद्ध होंगी।

17.36 करोड़ से तैयार होगा आईजीएमसी-संजौली कवर्ड फुटपाथ
मुख्यमंत्री ने कहा कि शिमला स्मार्ट सिटी मिशन के तहत 17.36 करोड़ रुपये की लागत से आईजीएमसी शिमला से संजौली तक सड़क के किनारे (घाटी की तरफ) कवर्ड फुटपाथ बनाया जा रहा है। इससे शिमला वासियों के साथ-साथ यहां भ्रमण पर आने वाले पर्यटकों को भी सुविधा प्राप्त होगी। उन्होंने कहा कि इस स्मार्ट फुटपाथ में स्पीकर सुविधा वाले स्मार्ट पोल, सी.सी.टी.वी., लाइटिंग और वाई-फाई की सुविधा उपलब्ध होगी। फुटपाथ के किनारे पर डिजीटल साईनेज और बंदरों को दूर रखने वाले उपकरण भी स्थापित किए जाएंगे।

आईजीएमसी में बनेगी 420 वाहनों की क्षमता वाली पार्किंग
मुख्यमंत्री श्री जयराम ठाकुर जी ने कहा कि बहु-मंजिला पार्किंग परिसर और आईजीएमसी के नए ओ.पी.डी. ब्लाॅक के लिए सम्पर्क सड़क के माध्यम से 420 वाहनों के लिए पार्किंग की सुविधा उपलब्ध होगी और इससे आईजीएमसी में पार्किंग की समस्या के निवारण में सहायता मिलेगी। उन्होंने कहा कि इस सम्पर्क के माध्यम से कार्ट रोड से आईजीएमसी के नए ओ.पी.डी. ब्लाॅक तक आसानी से पहुंचा जा सकेगा।
समाज के विभिन्न वर्गों के लोगों ने मुख्यमंत्री को नववर्ष की दी बधाई  
मुख्यमंत्री श्री जयराम ठाकुर जी को नववर्ष के सुअवसर पर विभिन्न राज्यों के मुख्यमंत्रियों, केन्द्रीय मंत्रियों, पार्टी के वरिष्ठ नेताओं, विभिन्न राज्यों के मंत्रियों, प्रदेश मंत्रिमंडल के सदस्यों, विधानसभा सदस्यों, वरिष्ठ अधिकारियों, विभागाध्यक्षों, विभिन्न बोर्डों और निगमों के अध्यक्षों व उपाध्यक्षों, नगर निगम शिमला के महापौर और उप-महापौर ने बधाई और शुभकामनाएं दीं। मुख्यमंत्री ने राजभवन में राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय से भेंट की और उन्हें नव वर्ष की बधाई दी।
समाज के हर वर्ग के लोगों ने प्रातः मुख्यमंत्री के सरकारी आवास ओकओवर तथा उनके कार्यालय पहंुचकर उन्हें नव वर्ष की बधाई और शुभकामनाएं दीं। उन्हें दूरभाष के माध्यम से भी बधाई संदेश प्राप्त हुए हैं। मुख्यमंत्री ने शुभकामनाओं के लिए सभी लोगों, विशेषकर हिमाचल प्रदेश की जनता का आभार व्यक्त किया जिनके अपार समर्थन से यह प्रदेश विभिन्न क्षेत्रों में देशभर में एक आदर्श राज्य बनने की ओर अग्रसर है। मुख्यमंत्री ने फस्र्ट वरडिक्ट मीडिया-सोलन द्वारा तैयार पोस्टर्स ‘हिमाचल सेज नो टू ड्रग्स’ का विमोचन भी किया। इस अवसर पर पत्रकार मदन हिमाचली, अजय कौशिक और गगन शर्मा भी उपस्थित थे।

Comments