मुख्यमंत्री ने ‘‘ग्लोबल इंवेस्टर्स मीट’’ को यादगार बनाने के लिए धर्मशाला में अधिकारियों के साथ बनाई रूपरेखा

मुख्यमंत्री श्री जयराम ठाकुर जी के नेतृत्व वाली हिमाचल सरकार ‘‘ग्लोबल इंवेस्टर्स मीट’’ को सफल बनाने के लिए हरसंभव कार्य कर रही है। इसी दृष्टि से आज मुख्यमंत्री ने धर्मशाला में ग्लोबल इंवेस्टर्स मीट की तैयारियों के सिलसिले में प्रदेश सरकार के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक की। उन्होंने इस सम्मेलन के लिए सभी प्रबंध सुनिश्चित बनाने के निर्देश दिए ताकि प्रदेश में आयोजित हो रही पहली  इंवेस्टर्स मीट यादगार बन सके। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी श्री 7 नवम्बर को इंवेस्टर्स मीट का शुभारम्भ करेंगे जबकि केन्द्रीय गृह मंत्री श्री अमित शाह जी 8 नवम्बर को इसके समापन समारोह की अध्यक्षता करेंगे। इसके अतिरिक्त कई वरिष्ठ केन्द्रीय मंत्री भी इसमें भाग लेंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि ग्लोबल इंवेस्टर्स मीट का आयोजन पहली बार हो रहा है, इसलिए इसकी तैयारियों में कोई कमी नहीं रहनी चाहिए। उन्होंने धर्मशाला शहर में सफाई व्यवस्था बनाए रखने और सौंदर्यीकरण पर विशेष ध्यान देने के निर्देश दिए।
209 विदेशी प्रतिनिधियों के ठहरने के लिए होंगे उचित प्रबंध
मुख्यमंत्री ने कहा कि सम्मेलन में भाग लेने आ रहे 209 विदेशी प्रतिनिधियों के ठहरने के उचित प्रबंध किए जाएं ताकि उन्हें किसी प्रकार की असुविधा न हो। इस अवसर पर उन्होंने लगाई जाने वाली प्रदर्शनी को आकर्षक और सूचनाप्रद बनाने के लिए कहा। उन्होंने कहा कि सम्मेलन के दौरान आठ सत्र आयोजित होंगे और इसके अतिरिक्त उद्यमियों के साथ अलग-अलग बैठकें भी की जाएंगी।
आड़े नहीं आएगी परेशानी
मुख्यमंत्री श्री जयराम ठाकुर जी ने कहा कि दो दिवसीय इस सम्मेलन के दौरान आम नागरिकों, विशेषकर रोगियों, वृद्धों और विद्यार्थियों को किसी प्रकार की असुविधा नहीं होनी चाहिए। यातायात के सुचारू संचालन के लिए उचित प्रबंध किए जाएं ताकि लोगों को परेशानी का सामना न करना पड़ा। उद्योग विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव श्री मनोज कुमार ने ग्लोबल इंवेस्टर्स मीट की तैयारियों के संदर्भ में मुख्यमंत्री को विस्तृत जानकारी दी।
विशिष्ट अतिथियों के ठहरने के लिए की गई है 1200 कमरों की व्यवस्था
कांगड़ा जिला के उपायुक्त श्री राकेश प्रजापति ने अवगत करवाया कि विशिष्ट अतिथियों के ठहरने के लिए व्यापक प्रबंध किए गए हैं। धर्मशाला में उनके के लिए 1200 कमरों की व्यवस्था की गई है। सुचारू यातायात व्यवस्था के लिए भी प्रभावी कदम उठाए गए हैं। उन्होंने कहा कि विदेशी प्रतिनिधियों और अन्य अति विशिष्ट व्यक्तियों के साथ 125 सम्पर्क अधिकारियों को नियुक्त किया गया है। उन्होंने जानकारी दी कि धर्मशाला के सौंदर्यीकरण के लिए विशेष तौर पर प्रयास किए गए है। मुख्य सचिव डाॅ. श्रीकांत बाल्दी ने धन्यवाद प्रस्ताव रखा।


Comments