कैबिनेट बैठक : विभिन्न विभागों में भरे जाएंगे सैंकड़ों पद, अपग्रेड होंगे शिक्षण संस्थान और इन शिक्षकों व कर्मियों के मानदेय में की वृद्धि

मुख्यमंत्री श्री जयराम ठाकुर जी के नेतृत्व वाली प्रदेश सरकार जनकल्याण के लिए अहम निर्णय लेकर कार्य कर रही है। 25 फरवरी, 2019 को मुख्यमंत्री श्री जयराम ठाकुर जी की अध्यक्षता में प्रदेश मंत्रिमंडल की बैठक हुई। बैठक में कांगड़ा जिले के जसवां-परागपुर विधानसभा क्षेत्र के कोटला बेहर तथा इन्दौरा विधानसभा क्षेत्र के इन्दौरा में हिमाचल प्रदेश लोक निर्माण विभाग के नए मंडल खोलने तथा बिलासपुर जिला के झण्डूता, मण्डी जिला के पांगणा तथा सिरमौर जिले के बोगधार में लोगों की सुविधा के लिए उप-मण्डल खोलने तथा इन मण्डलों व उपमण्डलों को क्रियाशील बनाने हेतु आवश्यक पदों के सृजन को मंजूरी प्रदान की गई। मंत्रिमण्डल की बैठक में 1 अपै्रल, 2019 से स्कूल प्रबन्धन समिति नीति के तहत नियुक्त शिक्षकों के मानदेय में 20 प्रतिशत की वृद्धि को मंजूरी प्रदान की गई। इस निर्णय से 2635 एसएमसी शिक्षक लाभान्वित होंगे। मंत्रिमण्डल ने प्राथमिक व उच्च शिक्षा विभागों में कार्यरत अंशकालीन जल वाहकों के मानदेय को 1 अपै्रल, 2019 से 2200 रुपये बढ़ाकर 2400 रुपये प्रतिमाह करने का भी निर्णय लिया गया। इस निर्णय से 2268 अंशकालीन अनुबन्ध जल वाहक लाभान्वित होंगे। मंत्रिमण्डल ने स्कूलों में मिड-डे-मील योजना के तहत रखे गए खाना बनाने वाले/सहायकों के मानदेय में 1 अपै्रल, 2019 से 1800 रुपये से 2000 रुपये प्रतिमाह 10 शैक्षणिक महीनों के लिए वृद्धि का भी निर्णय लिया। इस निर्णय से राज्य में कार्यरत 21750 खाना बनाने वाले/सहायक लाभान्वित होंगे।

हिमाचल मंत्रिमण्डल ने कीर्ति चक्र विजेताओं की वार्षिक राशि को मौजूदा 1.50 लाख रुपये से बढ़ाकर महावीर चक्र विजेताओं के बराबर दो लाख रुपये करने का निर्णय लिया। मंत्रिमण्डल ने जिला सिरमौर में पशु चिकित्सा औषधालय रोनहाट को विभिन्न श्रेणियों के तीन पदों के सृजन सहित पशु चिकित्सा अस्पताल में स्तरोन्यन करने को भी अपनी स्वीकृति प्रदान की। मंत्रिमण्डल ने कांगड़ा जिले के संसारपुर टैरेस में नए अग्निशमन केन्द्र खोलने और विभिन्न श्रेणियों के सात पदों के सृजन सहित इन्हें भरने की भी मंजूरी प्रदान की। मंत्रिमण्डल ने मंडी जिले में पुलिस चैकी हटली को पुलिस स्टेशन और सोलन जिले की पुलिस चैकी कुनिहार को पुलिस स्टेशन बनाने और इन स्टेशनों के सुचारू संचालन के लिए विभिन्न श्रेणियों के 16 पदों के सृजन व इन्हें भरने की स्वीकृति प्रदान की। मंत्रिमण्डल ने मण्डी जिला के जोगिन्दरनगर के लड़बड़ोल में और सिरमौर जिले के पांवटा साहिब तहसील के सतोन व अम्बोया में नए औद्यागिक प्रशिक्षण संस्थान खोलने व इनके प्रबन्धन के लिए विभिन्न श्रेणियों के 42 पदों के सृजन व इन्हें भरने की भी मंजूरी प्रदान की। मंत्रिमण्डल ने फल उत्पादकों की सुविधा के लिए शिमला जिले के ठियोग विकास खण्ड के बासाधार में बागवानी उप केन्द्र खोलने की स्वीकृति प्रदान की।

मंत्रिमण्डल ने मण्डी जिला के भदरोटा में सिंचाई एवं जन स्वास्थ्य विभाग के नए उप मण्डल खोलने को भी स्वीकृति प्रदान की। मंत्रिमण्डल ने सिरमौर जिला के नौहराधार मण्डल के तहत चण्डोल में सिंचाई एवं जन स्वास्थ्य विभाग के नए उप मण्डल खोलने के अतिरिक्त खेरी तथा नेरीपुल में सिंचाई एवं जन स्वास्थ्य विभाग के दो खण्डों के निर्माण के साथ विभिन्न श्रेणियों के आठ पदों के सृजन को भी स्वीकृति प्रदान की। मंत्रिमण्डल ने राज्य के विभिन्न भागों में दस नए अटल आदर्श विद्यालय खोलने को अपनी स्वीकृति प्रदान की। यह विद्यालय बिलासपुर जिले के बरठीं, चम्बा जिले के सत्यास में, कांगड़ा जिले के लम्बागांव तथा परौरध्वल्हा, मण्डी जिला के चैल और सरकाघाट, शिमला जिले के चौपाल, सिरमौर जिला के बंदली और ऊना जिले के गेहरा में छात्रों को गुणवत्तायुक्त आवासीय शिक्षा प्रदान करने के लिए खोले जाएंगे। मंत्रिमण्डल ने क्षेत्र के छात्रों की सुविधा के लिए शिमला जिले के सरस्वतीनगर स्थित लाल बहादर शास्त्री राजकीय महाविद्यालय में राजनीति विज्ञान, इतिहास, हिन्दी और अर्थशास्त्र विषयों में स्नातकोत्तर कक्षाएं आरम्भ करने का भी निर्णय लिया। मंत्रिमण्डल ने मण्डी जिला के बल्ह, साइगलू, गोपालपुर-1-2 शिक्षा खण्डों में से नया प्राथमिक शिक्षा खण्ड रिवाल्सर में बनाने को भी स्वीकृति प्रदान की।

मंत्रिमण्डल ने ऊना जिले के जोल/चौकीमनीयार में बंगाणा और अम्ब के शिक्षा खण्डों में से नया शिक्षा खण्ड बनाने को भी स्वीकृति प्रदान की। मंत्रिमण्डल ने सिरमौर जिले के राजकीय प्राथमिक पाठशाला बैम्बयार-बडयार, बड़ा चाकली, घरगों पालशो और गुसान को राजकीय माध्यमिक पाठशाला, सिरमौर जिले के राजकीय माध्यमिक पाठशाला दाड़ो देरिया एवं कोटला मोलर, मण्डी जिला में राजकीय माध्यमिक पाठशाला सेरू एवं गुजरोधार, बिलासपुर जिला में राजकीय माध्यमिक पाठशाला प्लासला, कांगड़ा जिला में राजकीय माध्यमिक पाठशाला कस्बा कलेरी, कुल्लू जिला के राजकीय माध्यमिक पाठशाला रूजाक के चैपारसा और बस्तुरी-2 को उच्च विद्यालय, कुल्लू जिला में राजकीय उच्च पाठशाला सोयल और बाशिंग, मण्डी जिला में राजकीय उच्च पाठशाला गलू, सिरमौर जिला में राजकीय उच्च पाठशाला कोटला बरोग, छोग टाली, सड़ियार और मूगलावाला करतारपुर, बिलासपुर जिला में राजकीय उच्च पाठशाला मुड़खर, चम्बा जिला में राजकीय उच्च पाठशाला सुराल, हमीरपुर जिला के राजकीय उच्च पाठशाला बड़ेहर और सोलन जिला में राजकीय उच्च पाठशाला थाना को राजकीय वरिष्ठ माध्यमि पाठशाला में स्तरोन्नत करने का भी निर्णय लिया। मंत्रिमण्डल ने सिरमौर जिला के शिक्षा खण्ड शिलाई के तहत ग्राम पंचायत अशयारी में नए प्राथमिक विद्यालय खोलने का भी निर्णय लिया। मंत्रिमण्डल ने अर्थ एवं सांख्यकी विभाग में अन्य पिछड़ा वर्गों की विभिन्न श्रेणियों के 11 बैकलॉग पदों को भरने की स्वीकृत प्रदान की।

मंत्रिमण्डल ने कांगड़ा जिले के जस्वां परागपुर में नए सिंचाई एवं जन स्वास्थ्य विभाग के मण्डल और कांगड़ा जिले के रकड़ में नया उप-मण्डल खोलने व आवश्यक पदों के सृजन व भरने को स्वीकृति प्रदान की। मंत्रिमण्डल ने सिरमौर जिला के नाहन मण्डल के तहत ददाहु में सिंचाई एवं जन स्वास्थ्य विभाग के नए उप-मण्डल खोलने को स्वीकृति प्रदान की। मंत्रिमण्डल ने लाहौल-स्पिति जिले के एपीएल उपभोक्ताओं को आवश्यक वस्तुएं जैसे गेहूं, आटा, चावल की आपूर्ति लाहौल घाटी के बीपीएल उपभोक्ताओं को 4/2019 से 9/2019 तक दी जा रही दरों पर प्रदान करने का निर्णय लिया। उन्होंने नवसृजित उपमण्डल निर्वाचन कार्यालय फतेहपुर, नगरोटा बगवां, शाहपुर, थुनाग, झंडूता और स्वारघाट में छः पद कनिष्ठ कार्यालय सहायक (आईटी) तथा छः पद सेवादार के सृजित करने की स्वीकृति प्रदान की। उन्होंने जिला मण्डी के सुन्दरनगर में 100 बिस्तरों के नागरिक अस्पताल को  150 बिस्तरों में स्तरोन्नत करने की स्वीकृति प्रदान की। उन्होंने मण्डी जिला के तत्तापानी में नया प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र खोलने की स्वीकृति प्रदान की। उन्होंने सिरमौर जिले के प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र रोनहाट को सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में स्तरोन्नत करने को मंजूरी प्रदान की। मंत्रिमण्डल ने मण्डी जिले के सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र लड़भड़ोल को 50 बिस्तरों के अस्पताल में स्तरोन्नत कर उसमें विभिन्न श्रेणियों के 14 पदों को सृजित करने की स्वीकृति प्रदान की। उन्होंने सिरमौर जिले के सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र शिलाई को 100 बिस्तरों के स्तरोन्यन के साथ इसमें 17 पदों को सृजित करने की मंजूरी दी। उन्होंने मण्डी जिले के मोरला में प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र खोलने की स्वीकृति प्रदान की। मंत्रिमण्डल ने बिलासपुर जिले में 30 बिस्तरों के सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र भराड़ी को 50 बिस्तरों के सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में स्तरोन्नत करने की स्वीकृति प्रदान की। मंत्रिमण्डल ने कांगड़ा जिले के रैहन स्थित सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र को विभिन्न श्रेणियों के 13 पदों के सृजन सहित 50 बिस्तरों के नागरिक अस्पताल में स्तरोन्यन करने का निर्णय लिया।

मंत्रिमण्डल ने बिलासपुर जिले के घुमारवीं स्थित 50 बिस्तरों वाले नागरिक अस्पताल को 100 बिस्तरों के नागरिक अस्पताल में स्तरोन्यन करके 17 पदों के सृजन को मंजूरी प्रदान की। मंत्रिमण्डल ने शिमला जिला के झाखड़ी में नया प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र खोलने की भी स्वीकृति प्रदान की। मंत्रिमण्डल ने कांगड़ा जिला के चड़यार स्थित 30 बिस्तरों के सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र को आवश्यक पदों के सृजन सहित 50 बिस्तरों वाले नागरिक अस्पताल में स्तरोन्यन करने का भी निर्णय लिया। मंत्रिमण्डल ने कांगड़ा जिले की ग्राम पंचायत सरोआ, स्लेटी और अलोह में नए स्वास्थ्य उप केन्द्र खोलने को स्वीकृति प्रदान की। मंत्रिमण्डल ने सिरमौर जिला के अमरगढ़ और गोरखूवाला में प्राथमिक स्वास्थ्य खोलने को स्वीकृति प्रदान की। मंत्रिमण्डल ने मण्डी जिला के झांगी में प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र खोलने को भी स्वीकृति प्रदान की।

मंत्रिमण्डल ने मण्डी जिला के शारटी और बगड़ा गलू में स्वास्थ्य उप केन्द्र खोलने को स्वीकृति प्रदान की। मंत्रिमण्डल ने सिरमौर जिला के बर्मा पापड़ी और शभूवाला में नए प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र खोलने की स्वीकृति प्रदान की। मंत्रिमण्डल ने विभिन्न श्रेणियों के 115 पदों के सृजन व भरने के साथ मण्डी जिला के सिराज में नए बहुतकनीकी संस्थान खोलने को स्वीकृति प्रदान की। उन्होंने शिमला जिले के सुन्नी खण्ड में खण्ड चिकित्सा कार्यालय का स्वतंत्र कार्यालय खोलने का भी निर्णय लिया। उन्होंने मंडी जिले के धरवारथाच उप स्वास्थ्य केन्द्र को प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र में स्तरोन्नत करने की भी स्वीकृति प्रदान की। मंत्रिमण्डल ने कांगड़ा जिले में प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र खेरियां को सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में स्तरोन्नत करने का निर्णय लिया। मंत्रिमण्डल ने हमीरपुर जिला के नागरिक अस्पताल भोरंज को 100 बिस्तरों के नागरिक अस्पताल में स्तरोन्यन करके विभिन्न श्रणियों 12 पदों के सृजन को मंजूरी प्रदान की। उन्होंने ऊना जिले के 30 बिस्तरों वाले नागरिक अस्पताल अम्ब को स्तरोन्नत कर 100 बिस्तरों वाले नागरिक अस्पताल और उसमें 13 पदों के सृजन की भी स्वीकृति प्रदान की। उन्होंने ऊना जिले के प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र बीटन को सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में स्तरोन्नत कर की स्वीकृति प्रदान की। मंत्रिमण्डल ने बिलासपुर जिले के गुगा गेड़वीं में नए स्वास्थ्य उप केन्द्र खोलने को भी अपनी स्वीकृति प्रदान की। मंत्रिमण्डल ने ऊना जिले के सलोह  में प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र खोलने की स्वीकृति प्रदान की। मंत्रिमण्डल ने कुल्लू जिला की ग्राम पंचायत फालन में स्वास्थ्य उप केन्द्र खोलने को स्वीकृति प्रदान की। मंत्रिमण्डल ने मण्डी जिला के मुराह में स्वास्थ्य उप केन्द्र खोलने को स्वीकृति प्रदान की।


Comments